फायदे के अलावा गांधी परिवार कुछ नहीं सोच सकता-संबित पात्रा

फायदे के अलावा गांधी परिवार कुछ नहीं सोच सकता-संबित पात्रा

नई दिल्ली: पुलवामा हमले की बरसी पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के एक ट्वीट से कांग्रेस की मुसीबत बढ़ गई हैं. बीजेपी ने राहुल गांधी के ट्वीट पर कहा है कि पुलवामा नृशंस हमला था और गांधी परिवार फायदे के अलावा और कुछ सोच ही नहीं सकता. राहुल गांधी ने आज ट्वीट करके पूछा था कि पुलवामा हमले का सबसे ज्यादा फायदा किसे हुआ है.
राहुल की आत्मा भी भ्रष्ट हैं- संबित पात्रा
बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने राहुल गांधी के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए कहा, ‘’पुलवामा में हुआ हमला नृशंस आतंकी हमला था और यह राहुल का एक नृशंस बयान है कि किसको फायदा हुआ.’’ पात्रा ने कहा, ‘‘ मिस्टर गांधी, क्या आप फायदे के आगे भी सोच सकते हैं? जाहिर तौर पर नहीं. यह तथाकथित गांधी परिवार फायदे के अलावा और कुछ सोच ही नहीं सकता. वे सिर्फ भौतिक रूप से ही भ्रष्ट नहीं हैं…उनकी आत्माएं भी भ्रष्ट हैं.’’
राहुल ने क्या ट्वीट किया था?
राहुल गांधी ने अपने ट्विटर पर लिखा, ‘’आज जब हम पुलवामा हमले में हमारे 40 सीआरपीएफ शहीदों को याद कर रहे हैं तो हम हैं, तो हम पूछेते हैं- हमले से सबसे ज्यादा किसे फायदा हुआ? हमले में जांच का क्या परिणाम निकला? बीजेपी सरकार ने किसे सुरक्षा चूक के लिए जवाबदेह ठहराया है?’’
कपिल मिश्रा ने भी किया पलटवार
राहुल गांधी के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए बीजेपी नेता और हाल ही में दिल्ली चुनाव हारने वाले कपिल मिश्रा ने भी कहा, ‘’शर्म करो राहुल गांधी. पूछते हो पुलवामा हमले से किसका फायदा हुआ? अगर देश ने पूछ लिया कि इंदिरा-राजीव की हत्या से किसका फायदा हुआ, फिर क्या बोलोगे? इतनी घटिया राजनीति मत करो. शर्म करो.’’
आतंकवादी हमले को आज एक साल पूरा
बता दें कि जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले को आज एक साल पूरा हो गया है. इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे. पिछले एक दशक के दौरान सुरक्षाबलों पर हुआ ये सबसे बड़ा हमला था. इस मामले के पांच आरोपी अब तक मारे जा चुके हैं लेकिन मामले का मास्टरमाइंड जैश-ए- मोहम्मद का सरगना सैयद मसूद अजहरअभी भी पाकिस्तान में बैठा हुआ है. पुलवामा हमले की बरसी के मद्देनजर जम्मू कश्मीर में भी सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. क्योंकि खुफिया एजेंसियों को शक है कि इस दौरान वहां बड़े पैमाने पर आतंकी हमले किए जा सकते हैं.

सच की शक्ति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
shares
Wordpress Social Share Plugin powered by Ultimatelysocial
WhatsApp chat