सिद्धू आप में शामिल होते हैं तो मैं उनका स्वागत करने वाला सबसे पहला व्यक्ति बनूंगा-भगवंत मान

सिद्धू आप में शामिल होते हैं तो मैं उनका स्वागत करने वाला सबसे पहला व्यक्ति बनूंगा-भगवंत मान

आम आदमी पार्टी के पंजाब इकाई प्रमुख भगवंत मान ने कहा है कि कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू अगर हमारी पार्टी में शामिल होते हैं तो मैं सबसे पहले उनका स्वागत करूंगा. पंजाब में 2022 में विधानसभा चुनाव होना है. ऐसे में आम आदमी पार्टी पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू को अपनी पार्टी में शामिल करना चाहती है. मान ने कहा कि वह पहले ही सिद्धू को पार्टी ज्वाइन करने का ऑफर दे चुके हैं. पंजाब में 2022 में विधानसभा चुनाव होने हैं. ऐसे में आम आदमी पार्टी वहां अपने आप को मजबूत करना चाहती है. समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक आम आदमी पार्टी के पंजाब इकाई के प्रमुख भगवंत मान ने कहा है कि अगर सिद्धू आप में शामिल होते हैं तो मैं उनका स्वागत करने वाला सबसे पहला व्यक्ति बनूंगा. हालांकि भगवंत मान ने कहा कि उन्होंने अभी सिद्धू से कोई बात नहीं की है.
अभी सिद्धू से नहीं हुई कोई बातचीत- मान
भगवंत मान ने कहा, ”मैंने नवजोत सिंह सिद्धू को पार्टी में शामिल होने का ऑफर दिया है लेकिन हमारे बीच कोई बातचीत नहीं हुई है. सिद्धू एक ईमानदार नेता है. मैं क्रिकेट में उनका बहुत बड़ा समर्थक था. जब सिद्धू आउट हो जाते थे तो मैं टीवी देखना बंद कर देता था. अगर वह मेरी पार्टी में शामिल होते हैं तो मैं उनका सबसे पहले स्वागत करूंगा.” हालांकि सिद्दू ने हाल ही में कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी से मुलाकात की थी.
संगरूर से सांसद भगवंत मान ने कहा कि उन सभी नेताओं के लिए आम आदमी पार्टी के द्वार खुले हैं जो पंजाब की सेवा करना चाहते हैं. उन्होंने अपने प्रेस कांफ्रेंस में पंजाब सरकार पर निशाना साधा और बेरोजगारी-महंगाई को मुख्य मुद्दा बताया. मीडिया ने भगवंत मान से जब पूछा कि क्या अगर सिद्धू आम आदमी पार्टी में शामिल होते हैं तो क्या उनकी पार्टी उन्हें मुख्यमंत्री बना सकती है.
सिद्धू को CM पद देने के सवाल पर क्या बोले मान?
इसके जवाब में मान ने कहा कि पत्रकारों को पंजाब की समस्याओं से जुड़े सवाल पूछना चाहिए. पंजाब में किसान खुदकुशी कर रहे हैं, पानी का जलस्तर लगातार नीचे जा रहा है और बेरोजगारी बढ़ रही है. उन्होंने कहा कि इन समस्याओं पर पत्रकार सवाल पूछें.
बता दें कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच लंबे समय से तकरार चल रहा था. इसके बाद मंत्रिमंडल में फेरबदल के दौरान सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने उनसे प्रमुख विभाग ले लिया गया था. बाद में सिद्धू ने कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी से मुलाकात की थी. ऐसे में सवाल उठता है कि क्या सिद्धू कांग्रेस पार्टी छोड़ेंगे. इससे पहले लोकसभा चुनाव के दौरान राहुल गांधी की सीट अमेठी में नवजोत सिंह ने कई रैलियां की थी लेकिन राहुल वहां हार गए थे.

सच की शक्ति

सच की शक्ति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
shares
Wordpress Social Share Plugin powered by Ultimatelysocial
WhatsApp chat