कोरोना से पस्त पाकिस्तान, ध्यान भटकाने के लिए भारतीय सीमा में मचा रहा उत्पात

कोरोना से पस्त पाकिस्तान, ध्यान भटकाने के लिए भारतीय सीमा में मचा रहा उत्पात

पाकिस्तान कोरोना वायरस से अपने लोगों का ध्यान भटकाने का प्रयास कर रहा है। बता दें कि कोरोना वायरस की मार से पाकिस्तान भी बुरी तरह पस्त है और 56 की मौत हो चुकी है जबकि 4072 लोग संक्रमित हो चुके हैं। भारत समेत दुनिया कई देश कोरोना संक्रमण के चेन को ब्रेक करने के लिए लॉकडाउन का सहारा ले रहा है। लेकिन पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने कहा है कि पूरे पाकिस्तान में लॉकडाउन लागू नहीं किया जा सकता है। इमरान का कहना था, ”कोई ये न समझे कि पाकिस्तान में कोरोना का ख़तरा नहीं है। लेकिन 22 करोड़ लोगों को बंद नहीं कर सकते, ये नामुमकिन चीज़ है।
लगातार हो रही है फायरिंग
इससे पहले भी हाल ही में जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर पाकिस्तानी सेना की ओर से की गई गोलीबारी में छह सुरक्षाकर्मी घायल हो गए थे। संघर्ष विराम उल्लंघन जिले के सुंदरबनी सेक्टर में हुआ था। पाकिस्तानी सेना ने भारतीय ठिकानों को निशाना बनाने के लिए मोर्टार और ऑटोमैटिक्स का इस्तेमाल किया था।
पहले ही है कोरोना से बदहाल
दुनिया भर में फैली कोरोना की महामारी से पाकिस्‍तान की हालत बहुत खराब है। कोरोना वायरस पीड़‍ितों के इलाज में पाकिस्‍तान की हालत खराब होती जा रही है। अस्‍पतालों में मास्‍क, स्‍टॉफ के लिए प्रोटेक्टिव कपड़े और पर्याप्‍त वेंटिलेटर तक उपलब्ध नहीं हैं। संयुक्त राष्ट्र कॉन्फ्रेंस ऑन ट्रेड ऐंड डिवेलपमेंट ने पाकिस्तान को उन देशों में शामिल रखा है जिसकी अर्थव्यवस्था वैश्विक महामारी से बुरी तरह से प्रभावित होगी जो कि पहले ही आईएमएफ और विश्व बैंक की मदद से अपनी गाड़ी आगे बढ़ा रहा है। बहरहाल, इस संकट की स्थिति में पाक आतंक फैलाने की नीति पर अभी भी कायम है। इस संबंध में सेना की उत्तरी कमान के पूर्व कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल बीएस जासवाल के अनुसार पाकिस्तान का एक ही लक्ष्य है। यह उसकी आदत है। वह भारत को किसी भी तरह से कमजोर करना चाहता है। यही उसका एकमात्र लक्ष्य है। इसी के तहत घुसपैठ की कोशिशें हो रही हैं।

सच की शक्ति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
shares
Wordpress Social Share Plugin powered by Ultimatelysocial
WhatsApp chat