पंजाब में प्रवेश करने वाले होंगे क्वारनटीन, सीएम अमरिंदर को राज्यों की टेस्ट रिपोर्ट पर भरोसा नहीं

पंजाब में प्रवेश करने वाले होंगे क्वारनटीन, सीएम अमरिंदर को राज्यों की टेस्ट रिपोर्ट पर भरोसा नहीं

चंडीगढ़, कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए पंजाब सरकार ने अहम फैसला लिया है. ट्रेन, बस या फ्लाइट से पंजाब पहुंचने वाले लोगों को 14 दिनों तक क्वारनटीन रहना होगा. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शनिवार को इसकी घोषणा की. पंजाब में कोरोना का रिकवरी रेट 90 फीसदी है जो देश में सबसे ज्यादा है. लेकिन इसके बावजूद सरकार कोई भी लापरवाही नहीं बरतना चाहती है. पंजाब के सीएम ने कहा कि राज्य में जो भी प्रवेश करेगा उसकी स्क्रीनिंग की जाएगी. ये स्क्रीनिंग राज्य और जिलों के एंट्री प्वाइंट पर होगी. रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट पर यात्रियों की स्क्रीनिंग की जाएगी. जिसके में भी कोरोना के लक्षण पाए जाते हैं उसे इंस्टीट्यूशनल क्वारनटीन रहना होगा और अन्य को 14 दिन तक होम क्वारनटीन में रहना होगा. उन्होंने आगे कहा कि जो होम क्वारनटीन होंगे उनका रेपिड टेस्टिंग टीम चेक करेगी और जिनमें कोरोना के लक्षण होंगे उन्हें अस्पताल में टेस्टिंग के लिए जाना होगा. सीएम ने ये भी साफ कर दिया कि पंजाब सरकार देश या दुनिया के किसी भी हिस्से की ओर से जारी टेस्टिंग के सर्टिफिकेट पर भरोसा नहीं करेगी. उन्होंने पंजाब का अनुभव देते हुए कहा कि कैसे महाराष्ट्र और राजस्थान से लोगों के आने के बाद कोरोना के मामले बढ़े. हाल ही में दुबई से भी कुछ लोग पंजाब लौटे हैं. उनका जब टेस्ट किया गया तो वे कोरोना पॉजिटिव पाए गए, लेकिन उनके पास जो मेडिकल सर्टिफिकेट था उसमें उनकी रिपोर्ट निगेटिव थी.
उधर, पंजाब की राह पर बंगाल पर भी चल पड़ा है. पश्चिम बंगाल की सरकार ने भी फैसला लिया है कि जो भी राज्य में आएगा उसे 14 दिनों तक क्वारनटीन रहना होगा.

सच की शक्ति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
shares
Wordpress Social Share Plugin powered by Ultimatelysocial
WhatsApp chat